आई बी पी एस

IBPS

 

भारत बीपीओ संवर्धन योजना(आईबीपीएस), जिसकी परिकल्पना डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत की गयी थी,का उद्देश्य पूरे देश में बीपीओ / आईटीईएस परिचालन की 48,300 सीटों की स्थापना को प्रोत्साहित करना है।यह प्रत्येक राज्य में उस राज्य की जनसंख्या के अनुपात में वितरित और इसका परिव्यय 493 करोड़ रु. है । यह योजना बुनियादी संरचना और जन शक्ति के सन्दर्भ में छोटे शहरों में क्षमता निर्माण में सहायता करेगी और आईटी / आईटीईएस की अगुवाई वाली विकास की अगली लहर का आधार बनेगी।

मुख्य विशेषताएं:

  • वित्तीय सहायता: 1 लाख रु. की अधिकतम सीमा के अध्यधीन,अनुमत्य मदों पर पूंजीगत व्यय (कैपेक्स) और /अथवा परिचालन व्यय के लिए बीपीओ/आईटीईएस परिचालन पर किये व्यय का 50% प्रति सीट तक ।
  • महिलाओं और विशेष रूप से सक्षम व्यक्तियों के रोजगार के लिए विशेष प्रोत्साहन।
  • लक्ष्य से अधिक रोजगार सृजत करने और ग्रामीण क्षेत्रों सहित राज्य में व्यापक विस्तार के लिए प्रोत्साहन ।
  • स्थानीय उद्यमियों के लिए प्रोत्साहन।
  • हिमाचल प्रदेश,जम्मू और कश्मीर तथा उत्तराखंड जैसे पर्वतीय क्षेत्रों के लिए विशेष विचार ।

तीन शिफ्ट परिचालन को देखते हुए इस योजना में 1.5 लाख प्रत्यक्ष रोजगार सृजत करने की क्षमता है।यह योजना काफी अच्छी संख्या में अप्रत्यक्ष रोजगार भी सृजत कर सकता है ।

अधिक जानकरी के लिए देखिये: https://ibps.stpi.in/

Back to Top